Skip to content
Uncategorized

Five  major changes made by RBI

Five  major changes made by RBI

 

Advertisements

 

  • चेक पेमेंट सिस्टम RBI ने चेक पेमेंट सिस्टम में बदलाव करते हुए इसे और सुरक्षित कर दिया है. RBI द्वारा 50000 रुपए या उससे अधिक के चेक भुगतान पर नया सिस्टम लागू किया गया है. इस नए सिस्टम तो पॉजिटिव पे कहा जाएगा. इस सिस्टम के तहत चेक जारी करने के समय उसके ग्राहक द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर चेक को बैंक में भुगतान कराने से पहले ग्राहक से संपर्क किया जाएगा. इस नए बदलाव में ग्राहकों के साथ धोखाधड़ी की समस्या को रोका जा सकेगा. इस पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत लाभार्थी को चेक देने से पहले आपको चेक का विवरण, चेक के सामने और रिवर्स साइड की फोटो बैंक के साथ साझा करनी होगी.

 

  • गोल्ड लोन RBI ने गोल्ड ज्वेलरी पर कर्ज की वैल्यू (Gold to Loan Value) को बढ़ा दिया है. अब गोल्ड पर 90 फीसदी तक कर्ज मिल सकेगा. अभी तक सोने की कुल वैल्यू का 75 फीसदी ही लोन मिलता था. आप जिस बैंक या नॉन बैकिंग फाइनेंस कंपनी में गोल्ड लोन का आवेदन करते हैं, वह पहले आपके सोने की गुणवत्ता की जांच करते हैं. सोने की गुणवत्ता के हिसाब से ही लोन की राशि तय होती है. आमतौर पर बैंक सोने के मूल्य के 75 फीसदी तक लोन दे देते हैं.

 

  • ऑफलाइन रिटेल पेमेंट्स अब कार्ड या मोबाइल डिवाइसेस के जरिए डिजिटल पेमेंट्स बिना इंटरनेट कनेक्टिविटी से भी किया जा सकेगा. रिजर्व बैंक (RBI) ने गुरुवार को डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए ऑफलाइन रिटेल पेमेंट्स की एक पायलट स्कीम को मंजूरी देने का एलान किया है. इस प्रोजेक्ट के तहत जिन जगहों पर इंटरनेट कनेक्टिविटी नहीं है, वहां भी डेबिट, क्रेडिट या मोबाइल डिवाइस के जरिए लेनदेन किया जा सकेगा.

 

  • ODR सिस्टम देश में डिजिटल ट्रांजैक्शन तेजी से बढ़ रहा है, इसके साथ ही समस्याएं भी बढ़ती जा रही हैं. फेल हुए डिजिटल ट्रांजैक्शन (Digital transaction) के लिए ऑनलाइन डिस्प्यूट रिजोल्यूशन (ODR) सिस्टम. ऑनलाइन ट्रांजैक्शन से जुड़े विवाद के निपटारे के लिए ये नया उपाय होगा. शुरुआती तौर पर ऑथराइज्ड PSO को ODR सिस्टम को लागू करना होगा।

 

  • रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने गुरुवार को स्टार्टअप्स को प्रायोरिटी सेक्टर लेंडिंग (PSL) में शामिल कर लिया है. इस कदम से स्टार्टअप को बैंकों से फंड जुटाने में आसानी होगी. अब तक कृषि, MSME, शिक्षा, हाउसिंग आदि इसमें शामिल थे
 

You may also like...

1 Comment

  1. Thanks for the information. These R helpful in many ways. It helps in deciding about filing IT, GST and other tax returns, by us, though most of it is done by our tax manager-A/cs as per their knowledge/information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *